Spread the love

जसंवा,हिमशिखा न्यूज़

उद्योग मंत्री ने बरनाली में महिला मंडलों को बांटा सामान
कहा….आत्मनिर्भरता की राह पकड़े महिलाएं, सरकार करेगी पूरा सहयोग
शगुन योजना के तहत 07 परिवारों को दिए 2 लाख 17 हजार के चेक
देहरा 19 अगस्त: जसवां परागपुर विधानसभा क्षेत्र में विभिन्न महिला मंडलों के माध्यम से महिलाएं आत्मनिर्भरता की राह पकड़कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत अभियान में योगदान दें। बरनाली में महिला मंडलों को सामान वितृत करने के लिए आयोजित कार्यक्रम में उद्योग एवं परिवहन मंत्री बिक्रम ठाकुर यह बात बोल रहे थे। उद्योग मंत्री द्वारा आज वीरवार को बरनाली में ग्राम पंचायत बाड़ी, नारी और गमरूर के 11 महिला मंडलों को लगभग 5 लाख रूपये का सामान बांटा गया। जिनमें महिला मंडलों की मांग के अनुसार गद्दे, कुर्सियां, पेटियां, मैट, दरियां, बर्तन, पंखे आदि जरूरत की तमाम वस्तुएं बांटी गई।
उन्होंने कहा कि क्षेत्र में विभिन्न महिला मंडलों से जुड़ी महिलाएं किसी एनजीओ या स्वयं सहायता समुह के माध्यम से किसी आत्मनिर्भरता के प्रोजेक्ट पर कार्य करें, जिसके लिए सरकार हर संभव सहायता उपलब्ध करवाएगी। उन्होंने कहा कि स्थानीय जरूरतों और संसाधनों को ध्यान में रखते हुए हर महिला मंडल अच्छी परियोजनाओं का प्रस्ताव बनाकर उनके पास लाए। जिस हेतु वह हर संभव सहायता सरकार एवं स्वयं के माध्यम से उपलब्ध करवाएंगे।
उद्योग मंत्री ने सरकार द्वारा गरीब परिवारों की बेटियों के विवाह हेतु चलाई गई शगुन योजना के तहत 07 परिवारों को 2 लाख 17 हजार की राशि के चेक भी वितृत किए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में चल रही प्रदेश सरकार मानवीय मूल्यों के आधार पर कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि जरूरतमंद बच्चों विशेषकर बेटियों की पढ़ाई के लिए वह सदैव सहायता करते हैं। उन्होंने कहा क्षेत्र में कोई भी जरूरतमंद बेटी जिसको पढ़ाई या आत्मनिर्भर बनने के लिए किसी भी प्रकार की सहायता की आवश्यकता हो, वह उनसे निःसंकोच संपर्क कर सकती है।
उन्होंने कहा कि महिलाओं के सम्मान और सवाभिमान के साथ उन्हें सशक्त करना प्रदेश सरकार का प्रमुख लक्ष्य है। उद्योग मंत्री ने कहा कि महिलाओं को सम्मान देकर, उन्हें सशक्त बनाना ही उनकी सरकार का ध्येय है। उन्होंने कहा कि समाज निर्माण में सबसे अहम योगदान मातृशक्ति का है। उन्होंने कहा कि महिला न केवल परिवार एवं समाज को दिशा देने का कार्य करती हैं। इसलिए महिलाओं को समाज में व्यापत बुराईयों को खत्म करने और आत्मनिर्भर बनने की दिशा में कार्य करने चाहिए।
उन्होंने कहा कि प्रदेश की महिलाओं के सम्मान और सवाभिमान को ध्यान में रखते हुए 65 वर्ष से उपर सभी महिलाओं को पेंशन देने का ऐतिहासिक निर्णय जयराम सरकार ने लिया। इसके अतिरिक्त हिमाचल गृहणी सुविधा योजना, ग्रामीण आजीविका मिशन, सशक्त महिला योजना, बेटी है अनमोल योजना, पोषण अभियान, प्रधानमंत्री मातृवन्दना योजना, जननी सुरक्षा योजना जैसी अनेक योजनाओं के माध्यम से सरकार मातृशक्ति को संबल प्रदान करने का कार्य कर रही है।
कार्यक्रम उपरांत उद्योग मंत्री ने जनसमस्याओं को सुनते हुए अधिकत्म का मौके पर निपटारा किया और शेष के समयबद्ध निवारण हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए। इस अवसर पर जिला परिषद् उपाध्यक्षा स्नेह परमार, बीडीसी अध्यक्षा अनु जामला, जिला परिषद् सदस्या अनु राणा, महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष अनिता सपहिया, महिला मोर्चा मंडलाध्यक्ष सत्या सूद, उपाध्यक्ष सुदेश कुमारी, मंडलाध्यक्ष विनोद शर्मा, महामंत्री विरेंद्र ठाकुर, रूपिंद्र डैनी, हरबंस कालिया, एसडीएम देहरा धनबीर ठाकुर, बीडीओ परागपुर कंवर सिंह, तहसीलदार जसवां अंकित शर्मा, अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग हर्ष पुरी, अधिशासी अभियंता विद्युत बोर्ड कुल्दीप राणा, सीडीपीओ परागपुर जीत सिंह सहित विभिन्न महिला मंडलों की प्रतिनिधि और सदस्य उपस्थित रहीं।

By HIMSHIKHA NEWS

हिमशिखा न्यूज़  सच्च के साथ 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: